पिंकाथॉन के संस्थापक मिलिंद सोमन ने कहा कि मां-बेटी का संबंध सबसे मजबूत बंधन होता है
August 27, 2019 • Akram Choudhary

 

नोएडा ( अमन इंंडिया )।  सेक्टर- 110 स्थित स्पोर्टऐज एरिना में मां.बेटी की बाधा दौड़ का आयोजन किया गया।
यह बाधा दौड़ केवल मां बेटी की जोड़ी के लिए आयोजित की गई थी। इस दौड़ का मकसद उनमें टीम भावना को विकसित करना था और मौज मस्ती में फिजिकल एक्टिविटीज, शारीरिक गतिविधियों के आइडिया को बढ़ावा देना था। इस दौड़ में हाथों और आंखों की गतिविधियों का बेहतरीन तालमेल और भागीदारों का शारीरिक कौशल शामिल था। इस दौड़ में अलग अलग तरह की साधारण बाधाओं को पार करना था। यह दौड़ 4 बजे शुरू हुई। इस दौड़ में 30 उत्साही माताओं के साथ उनकी बेटियों ने भाग लिया। पिंकी कुमारी (39) - शिवी सिंह (14) रन की विजेता थीं जिन्होंने 1 मिनट और 17 सेकंड में इसे पूरा किया। अन्य श्रेणियां थीं - फिटेस्ट टीम और सबसे युवा टीम, जिसे मंजू गुप्ता (57) - अनुराधा गुप्ता (33) ने सबसे फिटेस्ट टीम और गीता शिंदे (60) - पवन शिंदे (36) के रूप में जीता। सबसे कम उम्र की टीम सारिका श्रीवास्तव (40) -सरवाजना श्रीवास्तव (6) और जसमीत कौर (40) - शार्वी सिंह (7) ने जीती। यह बहुत सारी गतिविधियों और संगीत से भरी शाम थी। शीर्ष तीन जोड़े माताओं और बेटियों को रोमांचक पुरस्कार मिला। यह विभिन्न गतिविधियों और संगीत की मधुर धनों से लबरेज एक रंगारंग शाम थी। इस मौके पर पिंकाथॉन के संस्थापक मिलिंद सोमन ने कहा कि मां-बेटी का संबंध सबसे मजबूत बंधन होता है। इससे ताकतवर बंधन जिंदगी में कोई दूसरा नहीं हो सकता। केवल मां ही अपनी बेटी की भावनाओं को समझ सकती है। हमारा विश्वास है कि एक स्वस्थ महिला ही स्वस्थ परिवार का पोषण कर सकती है। इसलिए महिलाओं की फिटनेस काफी महत्वपूर्ण है। देश भर में इस तरह की दौड़ के आयोजन से हम चाहते हैं कि महिलाएं अपने परिवार और विशेषकर अपनी फैमिली की महिला सदस्यों की जिंदगी में बदलाव लाने के लिए अपनी फिटनेस की अहमियत को पहचाने।