आपके बच्चे के सुरक्षित भविष्य के लिए बाल दिवस का उपहार:अंजली मल्होत्रा
November 13, 2020 • Akram Choudhary

आपके बच्चे के सुरक्षित भविष्य के लिए बाल दिवस का उपहार

दिल्ली(अमन इंडिया)।पूरे भारत में 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री, पंडित जवाहर लाल नेहरू की वर्षगांठ है। इस साल हम दो जश्न एक साथ मना रहे हैं, पहला दीवाली और दूसरा बाल दिवस एक ही दिन पड़े हैं। इस दिन बच्चे के लिए सबसे अच्छा उपहार छोटी उम्र में ही उसके लिए फाईनेंशल प्लानिंग है। माता-पिता को शुरू से ही अपने बच्चे की जरूरतों, उसकी उच्च शिक्षा के खर्च, कॉलेज की फीस एवं अन्य खर्चों के लिए योजना बनाना आवश्यक होता है। बच्चे के अपने सपने व महत्वाकांक्षाएं होते हैं, इसलिए बच्चों के साथ साथ माता-पिता को भी सर्वश्रेष्ठ विकल्प खोजने होते हैं, ताकि उनके बच्चों के सपने पूरे होकर उन्हें एक सुरक्षित, सशक्त व सफल भविष्य मिल सके। इस प्रक्रिया में बच्चे को भविष्य के लिए सुरक्षित माध्यमों व विकल्पों के बारे में शिक्षित किया जाना भी शामिल है।

बच्चों के लिए निवेश माता-पिता के लिए सदैव से एक चुनौती है क्योंकि इस काम में उन्हें बेहतर भविष्य के लिए आज तैयारी करनी होती है। आज के माता-पिता अवसरों एवं माध्यमों के बारे में ज्यादा जागरुक हैं। वो पैरेंटिंग के पारंपरिक तरीकों को बदल रहे हैं। मिस अंजली मल्होत्रा, चीफ कस्टमर, मार्केटिंग, डिजिटल एवं आईटी ऑफिसर, अवीवी लाईफ इंश्योरेंस बच्चों के सुरक्षित भविष्य के लिए निवेश करने के कुछ विकल्पों के बारे में बता रही हैं।

 

प्लानिंग जल्द शुरू करें

आज मिलेनियल माता-पिता के पास संसाधनों की कमी नहीं। पूरी जानकारी उनकी उंगलियों पर रहती है, लेकिन इसके बाद भी ज्यादातर लोग फाईनेंशल प्लानिंग के मामले में अच्छे नहीं होते और इनमें से भी अधिकांश अपने बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए कोई फाईनेंशल योजना नहीं बना पाते। इस कारण से उनके पास पर्याप्त सेविंग्स नहीं होतीं और जब बच्चे की उच्च शिक्षा का वक्त आता है, तो उन्हें कर्ज लेना पड़ता है। इसलिए यह बहुत आवश्यक है कि आज के समय में फाईनेंस की प्लानिंग जल्दी शुरू की जाए ताकि बच्चों का सपना पूरा करने में न तो बच्चे के लिए और न ही माता-पिता के लिए कोई बाधा आए।

अपने बच्चे को शिक्षित करें और उसका संपूर्ण विकास सुनिश्चित करें

माता पिता बच्चों के पहले शिक्षक होते हैं। लेकिन बच्चों को सही व गलत के बीच का अंतर सिखाने के अलावा माता पिता को एक कदम आगे बढ़कर अपने बच्चों के लिए सुरक्षित वित्तीय भविष्य भी सुनिश्चित करना आवश्यक है। उदाहरण के लिए, माता पिता अपने बच्चों से फाईनेंस को लेकर नियमित तौर पर वार्ता कर सकते हैं। बाल दिवस माता-पिता को अपने बच्चों को निवेश का पाठ पढ़ाने का एक उत्तम अवसर दे रहा है। बचपन में माता पिता सामान्य चीजों जैसे आय, व्यय और बचत की बात कर सकते हैं और बाद में वो बैंक, फिक्स्ड डिपॉज़िट, बचत बैंक खाते एवं संचयी खाते के साथ उन्हें विभिन्न सरकारी योजनाओं और अपना वित्तीय भविष्य सुरक्षित करने के लिए अच्छे इंश्योरेंस प्लान के फायदों के बारे में बता सकते हैं।

अपने बच्चे की रुचि व प्रतिभा के बारे में जानें

मिलेनियल्स हमारे देश के चालक बल हैं। वो पारंपरिक अवसरों से आगे बढ़ करियर के कम प्रचलित मार्गों की ओर जा रहे हैं। पहले के मुकाबले आज के अवसर विशाल हैं और करियर व विकास के अनेक विकल्प उपलब्ध हैं। लेकिन बच्चे की खुशी व सफलता सुनिश्चित करने के लिए माता पिता को जरूरी है कि वो बच्चे की प्रतिभा को पहचानें और उसके अनुरूप ही उन्हें ढालें। उनके सपनों, प्रतिभा व महत्वाकांक्षाओं के बारे में जानने के लिए माता-पिता को संरचनाबद्ध एप्टिट्यूड असेसमेंट करना चाहिए, जिसमें विशेषज्ञ मार्गदर्शन का समावेश हो। इस प्रकार वो अपने बच्चों के कॉग्निटिव कौशल एवं क्षमताओं के बारे में जान सकते हैं। अवीवा किड-ओ-स्कोप अपनी तरह का खास ऑनलाईन प्लेटफॉर्म है, जो माता पिता को अपने बच्चों की प्रतिभा को पहचानने में मदद करता है। आज के मिलेनियल माता पिता अपने बच्चों के लिए हर चीज सर्वश्रेष्ठ चाहते हैं और यह टूल उन्हें अपने बच्चों का उज्जवल भविष्य सुनिश्चित करने में मदद करेगा। इस प्लेटफॉर्म के साथ उपलब्ध एजुकेशन कॉस्ट कैलकुलेटर माता पिता को अपने बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए फाईनेंस की योजना बनाने में मदद करता है।

बच्चों के इंश्योरेंस प्लान में निवेश करें

बाल दिवस पर कुछ ऐसा करें, जो आपके बच्चे के साथ हमेशा रहे। अपने बच्चे को इंश्योरेंस प्लान का उपहार दें, जो न केवल उसकी शिक्षा के लिए एक सुरक्षित फंड का निर्माण करेगा, बल्कि उसके करियर को भी सुरक्षित करेगा। आप बच्चे का इंश्योरेंस प्लान जितना जल्दी लेंगे, उतनी ही ज्यादा राशि आप उसके उज्जवल भविष्य के लिए सुरक्षित कर पाएंगे। ज्यादातर प्लान व्यक्तियों को प्रीमियम की सुविधाजनक शर्तें प्रदान करते हैं। इसलिए आप मासिक, अर्द्धवार्षिक या वार्षिक भुगतान के विकल्प चुन सकते हैं। इन इंश्योरेंस प्लांस के साथ टैक्स बेनेफिट्स भी मिलते हैं। इस प्रकार बच्चों का इंश्योरेंस प्लान न केवल एक सेविंग होता है, बल्कि यह एक प्लानिंग भी है और निवेश का उद्देश्य भी पूरा करता है। 

निष्कर्ष यह है कि अपने बच्चे के भविष्य की सुरक्षा करना भी उतना ही जरूरी है, जितना उसके वर्तमान का ख्याल रखना। अपने बच्चे का संपन्न व उज्जवल जीवन सुनिश्चित करने के लिए आपको पहले से ही एक आकस्मिक योजना बनाकर रखनी चाहिए।