अवीवा इंडिया ने प्रभावित समाज व समुदायों के लिए विस्तृत सपोर्ट पैकेज की घोषणा की
June 11, 2020 • Akram Choudhary

अवीवा ने इंडियन रेड क्रॉस सोसायटी के साथ हाथ मिलाया

कोविड-19 के दौरान समुदायों को राहत प्रदान की जाएगी

भारत/दिल्ली(अमन इंडिया) । कोरोना वायरस या कोविड-19 का संकट देश में समुदायों के बीच फैलता जा रहा है। 2 सालों से भारत की सबसे भरोसेमंद प्राईवेट लाईफ इंश्योरेंस कंपनी, अवीवा लाईफ इंश्योरेंस (डाबर इन्वेस्ट कॉर्प एवं अवीवा इंटरनेशनल होल्डिंग्स लिमिटेड के बीच संयुक्त उपक्रम) भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी (आईआरसीएस) का सहयोग करेगी। इस सहयोग के तहत कोविड-19 के संकट से निपटने के लिए प्रोटेक्टिव उपकरण एवं राहत पैकेज दिए जाएंगे। इस अभियान के द्वारा अवीवा इंडिया भारत में कोविड-19 की महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित 15 राज्यों में जाकर प्रभावित लोगों को इस बीमारी से लड़ने में मदद करेगी। 

रेड क्रॉस सोसायटी (आईआरसीएस) को सहयोग अवीवा ग्रुप एवं अवीवा फाउंडेशन+ द्वारा घोषित 10 मिलियन पाउंड की सहायता का हिस्सा है, ताकि ग्लोबल रेड क्रॉस अभियान सुनिश्चित कर सके कि कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित लोगों को सही समय पर सही सहयोग मिल सके। 

इसी के अनुरूप, आईआरसीएस अवीवा लाईफ इंश्योरेंस, इंडिया को इस संकट के दौरान सबसे ज्यादा प्रभावित लोगों को महामारी के लिए विभिन्न राहत पैकेज वितरित करने में मदद कर रहा है। इन राहत पैकेजों में सबसे ज्यादा प्रभावित समुदायों को एन-95 मास्क, ग्लव, सर्जिकल मास्क, थर्मल गन, हाईज़ीन किट्स, कम्युनिटी किचन एवं सूखा राशन शामिल है। यह अभियान प्रवासी मजदूरों, आदिवासियों, सिंगल मदर, वरिष्ठ नागरिक, विकलांगों, बच्चों, मुश्किल पहुंच वाले इलाकों में रहने वाले लोगों तथा स्वास्थ्यकर्मियों, पैरामेडिक्स, ब्लड बैंक स्टाफ एवं रेड क्रॉस कार्यकर्ताओं पर केंद्रित है। 

ट्रेवर बुल, एमडी एवं सीईओ, अवीवा इंडिया ने कहा, ‘‘अवीवा अपने समुदाय के साझेदार के रूप में इस संकट के समय देश के साथ संगठित खड़ा है। हमें भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी के साथ हाथ मिलाकर समाज में सबसे ज्यादा जरूरतमंद लोगों को महत्वपूर्ण मदद पहुंचाने की खुशी है। अवीवा में हमारा मानना है कि इस समय हमें एक दूसरे का ख्याल रखते हुए इस महामारी से मिलकर लड़ने की जरूरत है। हम अपने कर्मचारियों व आस पास के समुदायों को सहयोग पहुंचाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं, ताकि हम मिलकर इस मुश्किल समय से जल्द बाहर निकल सकें।’’

भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी के सेक्रेटरी जनरल, आर के जैन ने कहा, ‘‘हम मानव कल्याण व सतत उद्देश्यों के प्रयास में अवीवा इंडिया के योगदान के लिए उनके आभारी हैं। इस साझेदारी द्वारा हम समाज के कमजोर व कम सुविधा वाले लोगों की जरूरतों को पूरा कर सकेंगे। भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी (आईआरसीएस) में हमारा 

उद्देश्य एक सुरक्षित परिवेश का निर्माण करना तथा कोविड-19 से प्रभावित हुए लोगों की मदद करना है। आईआरसीएस एवं अवीवा का मानना है कि हम अनेक समुदायों की मदद कर सकते हैं और इस महामारी से निपटने के लिए हमारे साथ सर्वश्रेष्ठ लोग काम करें।’’

प्रवास की समस्या भारत के प्रमुख शहरों में होने वाली एक बड़ी समस्या है। लॉकडाऊन के कारण घर वापस जाने की गतिविधि पर लगी पाबंदी ने भोजन, दवाई, हाईज़ीन एवं आवास की समस्या को और ज्यादा बढ़ा दिया। आईआरसीएस के कार्यकर्ता इन विशेष जरूरतों को पूरा कर रहे हैं और खाने के पार्सल, पका हुआ खाना, सूखा राशन एवं हाईज़ीन किट्स सबसे ज्यादा कमजोर परिवारों एवं अस्थायी आवास में रहने वाले प्रवासी मजदूरों को पहुंचा रहे हैं