चुरा लिया है तुमनें जो दिल को " आशा भोंसले की जयंती पर संगीतमय संध्या
September 9, 2020 • Akram Choudhary

"

 नोएडा(अमन इंडिया)।09 सितंबर अपनी आवाज की कशिश के लिये मशहूर आशा भोंसले की जयंती 08 सितंबर पर अखिल भारतीय कायस्थ महासभा, कला संस्कृति प्रकोष्ठ, बिहार के सौजन्य से ऑनलाइन संगीतमय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कलाकारों ने आशा भोंसले के गाये गानों के जरिये लोगों का दिल जीत लिया।

    अखिल भारतीय कायस्थ महासभा, बिहार कला संस्कृति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष देव कुमार लाल की अध्यक्षता एवं कायस्थ रत्न, जनता दल यूनाईटेड (जदयू प्रवक्ता श्री राजीव रंजन प्रसाद की देखरेख में आशा भोंसले की जयंती के अवसर पर ‘चुरा लिया है तुमने जो दिल को ’ कार्यक्रम का आयोजन "फेसबुक

लाइव” के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में आशा भोंसले के गाये सदाबहार गीत चुरा लिया है तूने जो दिल को, पिया तू अब तो आजा, दम मारो दम, ये मेरा दिल यार का दीवाना, आजा आजा मै हू प्यार तेरा, ओ हसीना जुल्फों वाली, दिल चीज क्या है, इन आंखो की मस्ती के,तन्हा तन्हा जैसे गीत गाकर कलाकारों ने लोगों का दिल जीत लिया।

   लाल ने बताया कि कार्यक्रम में बरनाली मुखर्जी विश्वास,मेघाश्री अंजू और नीलम गुप्ता ने आशा भोंसले के सदाबहार

नगमों को पेश किया।

   इस बीच जदयू प्रवक्ता श्री राजीव रंजन ,अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेन्द्र श्रीवास्तव, राष्ट्रीय प्रवक्ता कमल किशोर ने आशा भोंसले को उनकी जयंती पर बधाई एवं शुभकामना दी है। उन्होंने कहा कि सुरीली आवाज की मल्लिका आशा भोंसले ने जितने भी गाने गाए हैं सभी सुपर डुपर हिट साबित हुये हैं। उन्होंने एक से एक बढ़कर गीत गाकर लोगों का दिल

जीता है। आशा भोंसले ने भारतीय सिनेमा के संगीत जगत को नया आयाम दिया। गायकी के क्षेत्र में उनके योगदान को कभी भूलाया नहीं जा सकता। वह अपनी दिलकश आवाज के जरिए आज भी लोगों के दिल पर राज कर रही हैं।