हाथरस की घटना ने दिल्ली की निर्भया काण्ड की घटना को भी बहुत पीछे छोड़:प्रमोद तिवारी
September 29, 2020 • Akram Choudhary

लखनऊ(अमन इंडिया)। काँग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) के सद्स्य तथा आउट रिच कमेटी उत्तर प्रदेश काँग्रेस के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने कहा है कि हाथरस में सामूहिक बलात्कार और बेरहमी से बबरतापूर्वक निर्मम पिटाई तथा उत्पीड़न की शिकार अनुसुचित जाति की बिटिया के साथ घटित घटना ने दिल्ली की निर्भया काण्ड की घटना को भी बहुत पीछे छोड़ दिया है,प्रदेश के हर बेटी के माँ बाप को सोचने पर मजबूर कर दिया है कि भारतीय जनता पार्टी के राज में कितनी सुरक्षित है हमारी बिटिया?नारी सम्मान ओर अस्मिता की दुहाई देने वाली तथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का दावा करने वाली भाजपा के राज में हर दिन बेटियां कुरता ओर बबरता की शिकार हो रही है,भाजपा राज में अपराधी भाजपा को अपनी पार्टी की अपनी सरकार मानकर बेखोफ अत्याचार अनाचार सामूहिक हत्याएं बबरतापूर्वक बलात्कार तथा जमीन हड़पो अभियान जैसी संगीन घटनाएं भारतीय जनता पार्टी के जंगलराज की कहानी कह रहा है,मौजूदा समय मे अपराधी मस्त है और जनता भवग्रस्त है,क्या इस दुर्दानत घटना के लिए कोई अपनी नैतिक जिमेदारी लेगा,इनसे नैतिकता की आशा करना ही व्यर्थ है,नैतिकता का भारतीय जनता पार्टी से दूर दराज तक कोई रिश्ता नही है,जितनी रिश्वतखोरी ओर भस्टाचार भारतीय जनता पार्टी के राज में हो रहा है,आजादी के बाद इसके पहले कभी नही हुई है,इस घटना के दुर्दानत अपराधी नही बल्कि हैवानों को विशेष अदालत गठित करके शीर्घ फाँसी पर लटकाया जाए।काश!भाजपा सरकार अपने विरोधियों के उत्पीड़न में और झूठे एव फर्जी मुकदमो में उन्हें फसाने तथा किसानों मजदूरो शिक्षाको कर्मचारियों तथा बेरोजगार नोजवानो पर जितना पुलिस की सख्ती का प्रयोग कर रही है यदि उसकी आधी भी अपराधियो के खिलाफ लगा दे तो प्रदेश की स्थित सुधर सकती है,श्री प्रमोद तिवारी मोदी सरकार से आग्रह किया है कि वे किसान के खिलाफ लाये गए कृषि संशोधन के काले कानून को तत्काल वापस ले,यह कानून देश के हित मे नही है क्योंकि कृषि प्रधान देश मे यदि किसान कमजोर होगा तो देश कमजोर होगा,मोदी जी ने अपनी जिद ओर अहंकार में 86./. नोटबन्दी करके गलत ढंग से जी.एस. टी.लागू करके कोरोना से निपटने की जगह ट्रंप के चुनाव अभियान के लिए नमस्ते ट्रंप का कार्यक्रम करके गलत समय पर गलत टँग से लॉक डाउन लागू करके देश की अर्थव्यस्था GDP को 23./. पर पहुँचा कर देश की अर्थव्यवस्था को तबाह ओर बर्बाद कर दिया है,ओर अब न्यूनतम समर्थन मूल्य(MSP) को नये काले कानून में जगह न देकर अनुबंध पर खेती कराने का कानून बनाकर पुरानी जमीदारी प्रथा को ले रहे है,ये किसानों के हित मे नही है और जो किसानो के हित मे नही है वह देश के हित मे नही है क्योकि यह कृषि प्रधान देश है।श्री प्रमोद तिवारी ने कहा है कि मोदी जी सत्ता के अहंकार में देश को बर्बाद ओर तबाह कर रहे है,काँग्रेस पार्टी इसे मा न्यायालय में चुनोती देगी,ओर काँग्रेस शासित राज्यो में इसे न लागू करने के हर विकल्प पर प्रयास करेंगी,तथा काँग्रेस पार्टी यह भी वायदा करती है कि जिस दिन केंद्र में काँग्रेस की सरकार बनेगी मंत्रिपरिष्द की पहली बैठक में ही इस काले कानून को समाप्त कर दिया जाएगा,यह दूसरे दिन का उगता हुआ सूरज नही देखेगा,यह हमारे देश के किसानों से वायदा है,,