हर देश की महिला सम्मान योग्य : संदीप मारवाह
October 10, 2020 • Akram Choudhary

दिल्ली(अमन इंडिया)।हमारे देश की महिलाओं ने हमेशा से ही पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम किया है वो चाहे आफिस घर या खेल जगत हो या फिर देश की आजादी, डॉ॰ सरोजिनी नायडू, एक महान राष्ट्रीय नेता व स्वतंत्रता सेनानी थी उनके सम्मान में एशियन एकेडमी ऑफ आर्टस ने अंतर्राष्ट्रीय चैंबर ऑफ मीडिया एंड एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के सहयोग से अंतर्राष्ट्रीय प्रसिद्ध मीडिया पर्सनेल्टी डा॰ संदीप मारवाह के नेतृत्व मे 15 अलग अलग देशों की 100 महत्वपूर्ण महिलाओं को यह सम्मान दिया गया।

इस पुरस्कार की शुरूआत 2016 उन सभी महिलाओं की सराहना और बढ़ावा देने के लिए की गई थी, जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में सराहनीय काम किया है और समाज में अग्रणी बनकर उभरी हैं। यह उन महिलाओं के लिए भी है जो समाज में बदलाव लाने और सामाजिक संगठनों को चलाने के लिए पूरी ईमानदारी से शामिल हैं। 

अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों में डारिना गोर्डिएन्को (यूक्रेन), एडिट ओस्को (हंगरी), एफी बच्त्सेवाना (ग्रीस), फौजिया बख्शी (पनामा), डॉ॰ अल्का गुप्ता (थाईलैंड), एचआरएच प्रिंसेस एंजेलिक मोनेट (यूएसए), इबूकुन अवोसिका (नाइजीरिया), श्रीनोवा इल्हामा जेपर (अजरबैजान), डॉ॰ जयंती राजा रतनम (मलेशिया), ज्योतिर्मय ठाकुर (यूके), नवीन दहिया (यूके), रागसुधा विंजामुरी (यूके), रेखा राजवंशी (ऑस्ट्रेलिया), सियोन (जेना), चुंग (दक्षिण कोरिया), शालिनी अरोरा कोचर) (मोनेको) और डॉ॰ शिक्षा गुजादुर (मॉरीशस) शामिल रहे। 

आकांक्षा त्यागी, अलंकृता मानवी, अलबीना अब्बास, डॉ॰ अनंत सिंह रघुवंशी, अंशु पाल, अनु धीर, अनुपमा डालमिया, अनुराधा शर्मा, बंदनप्रीत महाजन, डॉ॰ बरखा वर्शा, भावना गुप्ता, डेजी वरूण, फाल्गुनी श्रीमानंकर, डा॰ गगनदीप कौर गुलाटी, गौरी प्रधान तेजवानी, डॉ॰ गज़ाला जावेद, डॉ॰ हरलीन कौर, हरप्रीत कौर और डॉ॰ हेमलता एस मोहन को समाज में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

इरम रजा, ईशा भंडारी, जागृति मेहता संघवी, जयप्रियादर्शिनी, जयश्री जैन, जयति ओझा, जेने मर्चेंट, जेसी रॉय, ज्योति दहिया, काजल पल्ली, डॉ॰ कामाक्षी जिंदल, कंचन राय, कनिका माहेश्वरी, कीर्ति सचदेवा, लता चैहान, लिपिका मोदी, मैथिली जवेरी, मालविका सहगल कौर, ममता गोडियाल, डॉ॰ मानसी द्विवेदी और मरजिया अली को भी डॉ॰ संदीप मारवाह द्वारा पुरस्कार प्रदान किया गया। 

मीनाक्षी भसीन, डॉ॰ मीनाक्षी मेहता, मीनू ठाकुर, नम्रता नारायण, डॉ॰ नैंसी जुनेजा, नीना वाघ, नीतिका सी सबलोक, निदा खानम, निधि टंडन, परिनीता मल्होत्रा, पारुल चैधरी, प्रियंका बहल, पुनम सुरीन, डॉ॰ राधिका सिंह, डॉ॰ रागिनी कौल, डॉ॰ रमा गोयल, रंजीता आशीष, रंजीता सिंह, रश्मि रूबी वर्मा, रीना त्यागी, रितु भगत और रितु लाल के योगदान को भी सराहा गया। रितु सिन्हा, आरजे अमिता कमल, डॉ॰ संगीता आहूजा, डॉ॰ संगीता शर्मा अधिकारी, सान्या सीकरी, सारिका बाहेती, डॉ॰ सावित्री, सीरत नरेंद्र, शाहवर जौहरत, शालिनी दीवान, डॉ॰ शालिनी गुगनानी, डॉ॰ शर्मिला पांडे, शर्मिला बनर्जी, शिवानी थपलियाल, स्मिता श्रीवास्तव, स्नेहा प्रकाश, सोनिया मेहता, सोनिया साहिजवानी, डॉ॰ सुमन एस खरे, वैजयंती पुगलिया, विभूति तनेजा और विजय लक्ष्मी मिश्रा ने भी अपना प्रतिष्ठित पुरस्कार स्वीकार किया।