फोर्टिस अस्‍पताल नोएडा ने पहला समर्पित पोस्‍ट कोविड-19 क्‍लीनिक खोला 
August 7, 2020 • Akram Choudhary

 

नोएडा(अमन इंडिया)।पोस्‍ट कोविड-19 मरीज़ों की संपूर्ण देखभाल भारत अब भी कोविड-19 महामारी से गुजर रहा है, लेकिन खुशखबरी यह है कि कोविड मरीज़ों के स्‍वस्‍थ होने की दर 66.3% हो चुकी है। हालांकि अग्रिम मोर्चे पर जुड़े स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी कोविड-19 के मौजूदा मरीज़ों की सेवा में रात-दिन एक किए हुए हैं, लेकिन साथ ही यह भी देखा गया है कि कोविड-19 से उबर चुके लोगों को पल्‍मोनेरी इंफ्लेमेशन/फाइब्रोसिस, एक्‍सलरेटेड कार्डियाक पैथोलॉजी, वज़न घटना, ऊर्जा कम होना, चिंता, तनाव, नींद में व्‍यवधान जैसी शिकायतें पेश आने लगी हैं। इसके मद्देनज़र, फोर्टिस अस्‍पताल, नोएडा ने डॉ मृणाल सरकार, डायरेक्‍टर, डिपार्टमेंट ऑफ पल्‍मोनोलॉजी एवं क्रिटिकल केयर और उनकी टीम के मार्गदर्शन में पहला पोस्‍ट कोविड क्‍लीनिक खोला है। 

फोर्टिस अस्‍पताल, नोएडा के पोस्‍ट कोविड क्‍लीनिक में सांस, हृदय और मनोवैज्ञानिक समस्‍याओं से पी‍ड़‍ित कोविड मरीज़ों की जांच की जाएगी। पोस्‍ट कोविड केयर प्रोग्राम में पल्‍मोनॉजी और क्रिटिकल केयर, कार्डियोलॉजी, मैंटल हैल्‍थ एवं बिहेवियरल सर्विसेज़ के सीनियर कंसल्‍टैंट्स के साथ परामर्श और आवश्‍यकतानुसार विशिष्‍ट जांच की सुविधा शामिल है। सभी मरीज़ों को फिजियोथेरेपिस्‍ट तथा न्‍यू‍ट्र‍शनिस्‍ट की से सलाह-मश्विरा की सुविधा मिलेगी जिससे कोविड-19 को हरा चुके मरीज़ जल्‍द-से-जल्‍द अपना सामान्‍य जीवन शुरू कर सकें। इन सेवाओं को सभी कोविड सरवाइवर्स को उपलब्‍ध कराया जाएगा, भले ही वे घरों में क्‍वारंटीन कर रहे हों या कोविड वार्ड अथवा कोविड आईसीयू/एचडीयू में भर्ती हों। 

पोस्‍ट कोविड क्‍लीनिक के लॉन्‍च के अवसर पर डॉ मृणाल सरकार, डायरेक्‍टर एवं हैड, डिपार्टमेंट ऑफ पल्‍मोनोलॉजी एवं क्रिटिकल केयर, फोर्टिस अस्‍पताल, नोएडा ने बताया, ''कोविड मरीज़ों के रोगमुक्‍त होने की दर में पिछले कुछ महीनों में काफी सुधार हुआ है, हमने कोविड-19 को पराजित कर चुके मरीज़ों में कई महत्‍वपूर्ण बदलाव देखे हैं, जैसे सांस उखड़ना या खांसी, शारीरिक श्रम न कर पाना, नींद में व्‍यवधान होना, मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी परेशानियां, हृदय संबंधी शिकायतें, भूख न लगना आदि आम हैं। इन्‍हें देखते हुए, हमने महसूस किया कि ऐसे मरीज़ों के लिए पोस्‍ट कोविड देखभाल जरूरी है, भले ही वे रोग की मामूली, सामान्‍य या गंभीर अवस्‍था से गुजर चुके हैं।'' 

हरदीप सिंह  ज़ोनल डायरेक्‍टर, फोर्टिस अस्‍पताल, नोएडा ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया, ''इस अभूतपूर्व स्‍वास्‍थ्‍य संकट के चलते हमारा मकसद मरीज़ों की देखभाल के सर्वोत्‍तम मानकों का पालन करते हुए अधिकाधिक मरीज़ों का उपचार करना है। हम न सिर्फ इस वायरस संक्रमण पर नियंत्रण प्राप्‍त करने के प्रयासों में मदद कर रहे हैं बल्कि जीवन बचाना भी हमारा लक्ष्‍य है और अब हमने कोविड-19 से उबर चुके लोगों के लिए भी स्‍वास्‍थ्‍यलाभ की पेशकश की है।