पुश्ता पार  डूब क्षेत्र में भी है नॉएडा, नोवरा ने बांटा राशन और मास्क 
May 12, 2020 • Akram Choudhary

पुश्ता पार  डूब क्षेत्र में भी है नॉएडा, नोवरा ने बांटा राशन और मास्क
प्राधिकरण , प्रशाशन और सामाजिक संगठन  दूरी के कारण नहीं पहुंच पाए थे 
नॉएडा (अमन इंडिया)।-  कोरोना महामारी के कारण हो रही समस्याओं की नित नई  करुणादाई  कहानियां सामने आ रही हैं , हाल ही में नोवरा (नॉएडा विलेज रेसिडेंट्स एसोसिएशन) को यमुना किनारे डूब क्षेत्र में झुग्गियों में निवास करने वाले लोगों के पास राशन , खासकर आटे की भारी कमी हो गई है , यह लोग  उत्तर प्रदेश (नॉएडा) एवं हरियाणा की सीमा पर फल - फूल , सब्ज़ी आदि की खेती कर गुज़र बसर करते रहे हैं , लॉक डाउन के चलते ,खेतों में पानी देने , खाद आदि के लिए पैसे न बचने से इनकी ज़्यादातर फसल  बर्बाद हो गई है। इसमें सब्ज़े ज़्यादा परेशान फूलों के किसान हैं जिनकी सम्पूर्ण फसल किसी काम की नहीं रही।

 

इस खबर की पुष्टि करने के बाद संस्था ने वहां  रहने वाले परिवारों को आज राशन उपलब्ध करवाया इसके साथ ही सामाजिक दूरी रखने की सलाह देते हुए  उन्हें मास्क भी प्रदान किये गए। नज़दीक ही  पड़ने वाले एक फार्म पर यह राशन बांटा गया ,  इससे सैंकड़ो लोगों को राहत मिलेगी , इसके बाद संस्था के अध्यक्ष श्री रंजन तोमर ने प्राधिकरण अधिकारीयों से बात कर एक निश्चित जगह पर उन परिवारों को पका खाना मिलने की बात सुनिश्चित की , इस बाबत श्री तोमर ने प्राधिकरण का आभार जताया।  संस्था के उपाध्यक्ष श्री अजय चौहान ने बताया के पुश्ता पार के डूब क्षेत्र , अतः यमुना किनारे बसने वाले यह लोग मुख्य शहर से दूरी के कारण सामाजिक संगठनों की नज़र से बचे रहे। 

 

संस्था के संस्थापक सदस्य श्री अंकित अग्गरवाल ने कहा के  इनकी ईमानदारी इतनी थी के जब नोवरा ने इन तक राशन पहुंचाने की बात कही तो इन्होने कहा के उन्हें मुख्य रूप से आटे, तेल, चावल  और नमक  की ही समस्या है , कुछ हद तक सब्ज़ियां वह अपने लिए ऊगा पाए हैं , यह होता है भारतीय जनता का जज़्बा।