वर्ल्ड एसोसिएशन फॉर स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज ने स्मॉल मीडियम इंटरप्राइजेज के लिए चिंता जताई
December 17, 2019 • Akram Choudhary

नोएडा(अमन इंडिया):वर्ल्ड एसोसिएशन फॉर स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (WASME) द्वारा मंगलवार को इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस और सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस आयोजन में देशभर से कुल 200 स्मॉल एवं मीडियम इंटरप्राइजेज कंपनियों ने हिस्सा लिया। भारत में एसएमई को बढ़ावा देकर एसएमई 4.0 के माध्यम से "समावेशी और स्थायी लक्ष्य को प्राप्त करने"के लिए 23वां अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया।
 
 इस सम्मेलन का लक्ष्य एसएमई के विकास को बढ़ावा देना है और संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को प्राप्त करने के 2030 के एजेंडे के साथ इसे एकीकृत करना था।  यह सम्मेलन में वैश्विक मूल्य श्रृंखला में एसएमई की शिक्षा, उद्यमिता और नवाचार एकीकरण की पहुंच बढ़ाने के लिए केंद्रित प्रयासों को शुरू करने के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग को उत्प्रेरित करने का प्रयास किया गया और इस प्रकार उन्हें देश के सामाजिक-आर्थिक विकास में प्रभावी रूप से योगदान करने के लिए सशक्त बनाने के उद्देश्य से आयोजित किया गया । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अधीन राज्य मंत्री अश्विनी चौबे रहे।

वर्ल्ड एसोसिएशन फ़ॉर स्मॉल एन्ड मीडियम इंटरप्राइजेज के एग्जेक्युटिव सेक्रेटरी संजीव लायक ने बताया कि इस साल हमारा यह कॉन्फ्रेंस काफी सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। इसमें देशभर के कई स्मॉल और मीडियम कम्पनी के लोगों ने भाग लिया। इन कंपनियों द्वारा कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। हमें उम्मीद है कि वर्ल्ड एसोसिएशन फ़ॉर स्मॉल एन्ड मीडियम इंटरप्राइजेज के माध्यम से कई और इंडस्ट्री को बढ़ावा मिलेगा और माइक्रो, स्मॉल और मीडियम कम्पनी आसानी से काम कर सकेंगी।